Latest News Whatsapp

Mastermind Of Pulwama Terror Attack Killed In J&K Encounter

Pulwama Attack पाकिस्तान की जमीन से चलने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 60 आतंकी जम्मू-कश्मीर में एक्टिव हैं. सुरक्षाबलों ने अब इनके खिलाफ मिशन की शुरुआत कर दी है.

जम्मू-कश्मीर में पुलवामा में चल रहे एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, इस मुठभेड़ में पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर आत्मघाती हमले का मास्टरमाइंड गाजी रशीद के भी मारा गया है। पुलवामा हमले के चार दिन बाद ही सुरक्षाबलों ने गाजी को ढेर कर दिया है। मुठभेड़ में एक अन्य आतंकवादी भी ढेर किया गया है। अभी भी 5 आतंकवादियों के छिपे होने की खबर है।

गाजी के मारे जाने की खबर

Mastermind Of Pulwama Terror Attack

Mastermind Of Pulwama Terror Attack

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, गाजी रशीद और एक अन्य आतंकी पुलवामा हमले के बाद भागने में कामयाब रहे थे जबकि एक आतंकी मोहम्मद आदिल डार आत्मघाती हमले में मारा गया था। सूचना के मुताबिक गाजी जैश के सरगना मौलाना मसूद अजहर के सबसे विश्वसनीय करीबियों में से एक है। गाजी को युद्ध तकनीक और IED बनाने का प्रशिक्षण तालिबान से मिला है और इस काम के लिए उसे जैश का सबसे भरोसेमंद माना जाता है। गाजी रशीद ही पुलवामा का मुख्य साजिशकर्ता था। अब सुरक्षाबलों ने चार दिन बाद ही पुलवामा आत्मघाती हमले का मास्टरमाइंड गाजी को ढेर कर दिया है।

 

 

रात 12 बजे से जारी मुठभेड़

आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ कल रात 12 बजे से चल रही है। खुफिया सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया था। बता दें कि रविवार देर रात खुफिया सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों, राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने जैश-ए-मोहम्मद ) के आतंकवादियों की यहां छिपे होने की खुफिया सूचना मिलने के बाद पिंगलेना गांव को घेर लिया। पुलिस सूत्रों ने कहा, ‘घेराबंदी जैसे ही कड़ी हुई छिपे हुए आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी जिसके बाद दोनों ओर से मुठभेड़ शुरू हो गई।’

गाजी ने पिछले साल दिसंबर में पार की थी सीमा

बताया रहा है कि गाजी रशीद 9 दिसंबर को ही सीमा पार कर कश्मीर में घुस आया था। पुलवामा हमले के बाद सुरक्षा बलों ने उसे पकड़ने के लिए व्यापक तलाशी अभियान शुरू किया था। एनकाउंटर के दौरान सुरक्षाबलों ने उस इमारत को बम से उड़ा दिया जिसमें आतंकी छिपे थे। बता दें कि पुलवामा के पिंगलिना में खबर मिलने पर सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों को घेर लिया था।

चार जवान भी हुए हैं शहीद

इससे पहले देर रात से सोमवार तड़के तक चली मुठभेड़ में 55 राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर समेत चार जवान शहीद हो गए। शहीदों में मेजर डीएस ढौंडियाल, हवलदार शियो राम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरि सिंह थे। सभी शहीद जवान 55 राष्ट्रीय राइफल्स के थे। एक पुलिस अधिकारी ने सोमवार को कहा, ‘पिंगलेना गांव में रविवार रात हुई गोलीबारी में एक नागरिक की भी मौत हुई है। मृतक की पहचान मुश्ताक अहमद के रूप में हुई है।’

About the author

Bhavin

Leave a Comment